पीड़ा निवारक शनिधाम - बनवारी लाल कंछल Peera Niwarak Shanidham - Hindi book by - Banwari Lal Kansal
लोगों की राय

संस्कृति >> पीड़ा निवारक शनिधाम

पीड़ा निवारक शनिधाम

बनवारी लाल कंछल

प्रकाशक : मनोज पब्लिकेशन प्रकाशित वर्ष : 2013
आईएसबीएन : 9788131017562 मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पृष्ठ :150 पुस्तक क्रमांक : 9189

Like this Hindi book 3 पाठकों को प्रिय

376 पाठक हैं

पीड़ा निवारक शनिधाम...

Peera Niwarak Shanidham - A Hindi Book by Banwari Lal Kansal

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

शनिदेव अपने पिता सूर्य की तरह परमतेजस्वी हैं। कृष्णभक्त शनिदेव ने भगवान शिव का कठोर तप करके ‘न्यायाधीश’ का सम्मानित पद प्राप्त किया था। भगवान शिव के वर के अनुसार जीवमात्र के कर्मों का फल शनिदेव ही देते हैं। इसीलिए पापकर्मियों के लिए जहां ये अत्यंत क्रूर हैं, वहीं शुभकर्म करने वालों पर अपनी विशेष कृपा की वर्षा करते हैं। कौन-सी ऐसी मनोकामना है, जो शनिभक्त की पूरी न होती हो। मंदिर-साहित्य के सुप्रसिद्ध खोजी लेखक ने इस पुस्तक में शनि के विशेष धामों को पूरी जानकारी के साथ सचित्र प्रस्तुत किया है। श्रद्धालु भक्तों के लिए अत्यंत उपयोगी है यह पुस्तक।

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book