सामने का आसमान - मधुर कपिला Samne Ka Aasman - Hindi book by - Madhur Kapila
लोगों की राय

उपन्यास >> सामने का आसमान

सामने का आसमान

मधुर कपिला

प्रकाशक : भारतीय ज्ञानपीठ प्रकाशित वर्ष : 2010
आईएसबीएन : 9788126320028 मुखपृष्ठ : सजिल्द
पृष्ठ :378 पुस्तक क्रमांक : 10467

Like this Hindi book 0

आधुनिक संवेदना के साथ लिखा गया यह उपन्यास मानव मन की गहराइयों में छिपे कोलाहल को शब्द देता है.

सामने का आसमान' वरिष्ठ लेखिका मधुर कपिला का नवीनतम उपन्यास है. आधुनिक संवेदना के साथ लिखा गया यह उपन्यास मानव मन की गहराइयों में छिपे कोलाहल को शब्द देता है. यह उपन्यास लेखिका के लम्बे जीवनानुभव का दस्तावेज सरीखा है. रंगकर्म इसमें अपने समस्त आरोह-अवरोह के साथ समाहित है.

लोगों की राय

No reviews for this book