अज्ञेय रचना संचयन - सम्पा. कन्हैयालाल नन्दन Ajneya Rachana Sanchayan - Hindi book by - Kanhaiya Lal Nandan
लोगों की राय

संकलन >> अज्ञेय रचना संचयन

अज्ञेय रचना संचयन

सम्पा. कन्हैयालाल नन्दन

प्रकाशक : भारतीय ज्ञानपीठ प्रकाशित वर्ष : 2010
आईएसबीएन : 9788126319978 मुखपृष्ठ : सजिल्द
पृष्ठ :792 पुस्तक क्रमांक : 10456

Like this Hindi book 0

भारतीय साहित्य के कालजयी रचनाकारों में अग्रगण्य अज्ञेय का रचना-संसार हिन्दी का ऐश्वर्य है…

अज्ञेय रचना संचयन (मैं वह धनु हूँ...)' सच्चिदानन्द हीरानन्द वात्स्यायन 'अज्ञेय' की समर्थ व सार्थक रचना-सम्पदा से एक सोद्देश्य सोद्देश्य चयन है। भारतीय साहित्य के कालजयी रचनाकारों में अग्रगण्य अज्ञेय का रचना-संसार हिन्दी का ऐश्वर्य है। उन्होंने विविध विधाओं में विपुल एवं विलक्षण लेखन किया है। वे एक युगनिर्माता नेतृत्व-शक्ति सम्पन्न रचनाकार रहे हैं। व्यक्तित्व और कृतित्व की दृष्टि से अनुपमेय/अननुमेय अज्ञेय की प्रतिनिधि रचनाशीलता 'अज्ञेय रचना संचयन' में समाहित है। सुप्रसिद्ध साहित्यकार और सम्पादक डॉ. कन्हैयालाल नन्दन ने अज्ञेय की शब्द-साधना के उन पक्षों का चयन किया है, जिनसे अज्ञेय जैसे महत्त्वपूर्ण रचनाकार की एक परिपूर्ण छवि निर्मित होती है।

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book