जगह जैसी जगह - हेमन्त शेष Jagah Jaisi Jagah - Hindi book by - Hemant Shesh
लोगों की राय

कविता संग्रह >> जगह जैसी जगह

जगह जैसी जगह

हेमन्त शेष

प्रकाशक : भारतीय ज्ञानपीठ प्रकाशित वर्ष : 2007
पृष्ठ :104
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 10371
आईएसबीएन :9788126313129

Like this Hindi book 0

कविता लिखने के ढंग अनगिनत हैं पर जिस तरह की कविता हेमंत शेष लिखते हैं वह बहुत सारे 'बाहर' की औपचारिक आक्रांति न होकर आत्मा के भीतर जाने वाले रास्तों की खोज है…

कविता लिखने के ढंग अनगिनत हैं पर जिस तरह की कविता हेमंत शेष लिखते हैं वह बहुत सारे 'बाहर' की औपचारिक आक्रांति न होकर आत्मा के भीतर जाने वाले रास्तों की खोज है : गहरी आत्मकुलता और अर्थगर्भी विकलता को काव्याशयों में बदलने वाली कोशिश।

लोगों की राय

No reviews for this book