दलित साहित्य का समाजशास्त्र - हरिनारायण ठाकुर Dalit Sahitya Ka Samajshastra - Hindi book by - Harinarayan Thakur Dr.
लोगों की राय

आलोचना >> दलित साहित्य का समाजशास्त्र

दलित साहित्य का समाजशास्त्र

हरिनारायण ठाकुर

प्रकाशक : भारतीय ज्ञानपीठ प्रकाशित वर्ष : 2009
पृष्ठ :544
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 10320
आईएसबीएन :9788126317349

Like this Hindi book 0

चर्चित लेखक/समीक्षक हरिनारायण ठाकुर की दलित साहित्य पर एक और महत्वपूर्ण कृति है-- 'दलित साहित्य का समाजशास्त्र'...

चर्चित लेखक/समीक्षक हरिनारायण ठाकुर की दलित साहित्य पर एक और महत्वपूर्ण कृति है-- 'दलित साहित्य का समाजशास्त्र'। बकौल कमलेश्वर, "यह पुस्तक केवल दलित साहित्य ही नहीं, बल्कि दलित चेतना की पृष्ठभूमि की बेचैनियों और उसके प्रभावों, आन्दोलनों और रचनात्मकताओं का सविस्तार विश्लेषण है।"

लोगों की राय

No reviews for this book